5 time NAMAZ RAKAT TABLE |NAMAZ KI RAKAT CHART IN HINDI

NAMAZ RAKAT 

    इस पोस्ट में सभी नमाज़ों फज़र,जोहर ,असर,मगरिब ईशा की rakat के बारे में जानेंगे।अगर आप नमाज़ पढ़ते हैं और आपको नमाज़ की रकात के बारे में नहीं पता तो यह मुनासिब नहीं है आपको नमाज़ की rakat को सीखना चाहिए NAMAZ RAKAT TABLE I NAMAZ KI  RAKAT CHART IN HINDI,हेलो दोस्तों इस पोस्ट में हम नमाज़ की रकत के बारे में विस्तार से बताएँगे। हर मुसलमान पर पांच वक़्त की नमाज़ फ़र्ज़ है और हर एक मुसलमान को नमाज़ आनी चाहिए। हमारा यह ब्लॉग आपको नमाज़ सिखने में बहुत अच्छे से मदद करेगा। अगर आपने भी कभी सर्च किया है की नामा की रकत कितनी होती है और नमाज़ कैसे पढ़े तो यकीन मानिये आप सही ब्लॉग पढ़ रहे हैं।
    रकत के बारे में यूँ है की किसी भी नमाज़ में फ़र्ज़,सुन्नत,नफ़्ल और वित्र होते हैं। जिनके बार्रे में हमें बेहतर तरीके से मालूमात होने चाहिए। पांच वक़्त की नमाज़ों में केवल तीन रकत वित्र वाजिब होते हैं।
    उपर मैंने टेबल बनाई है जिसकी सहायता से आप बेहतर तरीके से रकअतों के बारे में जान सकेंगे।इसमें सभी नमाज़ो और नमाज़ में पढ़ी जाने वाली फर्ज ,सुन्नत,नफ़्ल और वित्र को समझाया है जो की आपको नमाज़ पढ़ने में आसानी करेगा।
    • fazr namaz rakat :- फज़र की नमाज़ में कुल  4 रकत होती हैं जिनमे 2 सुन्नत और 2 फ़र्ज़ होते हैं। फज़र की नमाज़ सुबह जल्दी पढ़ी जाती है।यह बहुत अहम नमाज़ होती है।
    • zuhr namaz rakat :-  ज़ुहर की नमाज़ में कुल 12 रकात होती जिनमे सबसे पहले 4 सुन्नत फिर 4 फ़र्ज़ और फिर 2 सुन्नत इसके बाद अंत में 2 नफ़्ल पढ़े जाते हैं।ज़ुहर की नमाज़ दोपहर में पढ़ी जाती है।
    • asar namaz rakat :-असर की नमाज़ में हम कुल 8 रकत होती हैं जिनमे 4 सुन्नत और 4 फ़र्ज़ होते हैं।असर की नमाज़ शाम होते ही पढ़ी जाती है।
    • magrib namaz rakat :-मगरिब की नमाज़ में कुल 7 रकात होती हैं सबसे पहले 3 रकत फ़र्ज़ पढ़ते हैं फिर 2 रकत सुन्नत और अंत में 2 रकत नफ़्ल पढ़ते हैं। मगरिब की नमाज़ सूरज के छिपते  समय पढ़ी जाती है।
    • isha namaz rakat :-ईशा की नमाज़ में 17 रकत पढ़ी जाती हैं जिनमे सबसे पहले 4 रकत सुन्नत ,फिर 4 रकत फ़र्ज़ ,2 रकत सुन्नत ,2 रकत नफ़्ल ,3 रकत वित्र और अंत में 2 रकत नफ़्ल पढ़ी जाती हैं। ईशा की नमाज़ बाकी सब नमाज़ों से लम्बी होती है। यह नमाज़ रात को सोने से पहले पढ़ी जाती है।
  • jumma namaz rakat :-जुम्मा की नमाज़ में 14 रकत पढ़ी जाती हैं जिनमे सबसे पहले 4 रकात सुन्नत फिर 2 रकत फ़र्ज़ और 4 रकत सुन्नत फिर से 2 रकत सुन्नत और सबसे बाद में 2 रकत नफ़्ल पढ़ी जाती हैं। जुमा की नमाज़ जुम्मा के दिन दोपहर में पढ़ी जाती है। जहर की नमाज़ में दो  रकत फ़र्ज़ और खुत्बा जोड़ दिया जाता है। यह हर मुसलमान पर फ़र्ज़ है। अगर कोई मुसलमान जुम्मे की दो  नमाज़ लगातार छोड़ देता है तो वो काफिर हो जाता है।

नमाज़ को मुकम्मल करने के लिए  हमे नमाज़ को सीखना चाहिए। अगर हमे नमाज़ नहीं आती है तो हम 40 दिन तक जैसे भी आये नमाज़ पढ़ सकते हैं परन्तु लाजिम है की इन दिनों में हम नमाज़ को सीख लें।नमाज़ को पढ़ने के लिए कम से कम सना ,सुर : फातिहा ,कोई 4 आयत ,दुरुद सरीफ और कुछ दुआ आनी चाहिए जिनके लिए हम आपको दूसरी पोस्ट उपलब्ध करवाएंगे।अगर अल्लाह ने चाहा तो आप जल्द ही नमाज़ को मुकम्मल कर पाएंगे।हम आपकी दुआ के मुन्तजिर रहेंगे।
उम्मीद करता हूँ की मेरे द्वारा दी गयी जानकारी “NAMAZ RAKAT TABLE | NAMAZ KI  RAKAT CHART IN HINDI”आपके लिए बेहतर होगी। अगर कुछ दिक्क्त हो तो मुझे कमेंट कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *